रोनाल्डो व मैसी की 10 साल की बादशाहत खत्म, मोडरिच बने सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर

पेरिस। क्रोएशिया और रियल मैड्रिड के मिडफील्डर लुका मोडरिच ने क्रिस्टियानो रोनाल्डो और लियोनल मैसी जैसे सितारों को पीछे छोड़कर फीफा के वर्ष 2018 के सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर का पुरस्कार जीत लिया। पिछले दस साल से इस पुरस्कार पर रोनाल्डो या मैसी का ही कब्जा था। इस बार रोनाल्डो दूसरे, फ्रांस और एटलेटिको मैड्रिड के स्ट्राइकर एंटोइन ग्रीजमैन तीसरे स्थान पर रहे।
पैरिस सेंट जर्मन के युवा फॉरवर्ड काइलियन एमबापे चौथे और मैसी पांचवें स्थान पर रहे। फ्रांस के ही राफेल वराने सातवें स्थान पर रहे जबकि लीवरपूल के मो सालाह छठे स्थान पर रहे। मोडरिच ने जीतने के बाद कहा- बचपन में हम सभी के सपने होते हैं। मेरा सपना बड़े क्लब के लिए खेलना और अहम् खिताब जीतना था। यह खिताब मेरे लिए सपने से भी बढ़कर है और इसे जीतकर मैं गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। एमबापे को सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी की कोपा ट्रॉफी मिली। इटली के फैबियो कानावारो के बाद सबसे उम्रदराज विजेता मोडरिच ने 36 बरस की उम्र में बेहतरीन प्रदर्शन किया। कानावारो ने 2006 में 33 वर्ष की उम्र में यह पुरस्कार जीता था। मोडरिच चैंपियंस लीग जीतने वाली रियल मैड्रिड टीम का हिस्सा थे। मोडरिच उस क्रोएशियाई टीम के भी स्टार थे जिसने विश्व कप फाइनल में पहुंचकर इतिहास रचा। फाइनल में उसे फ्रांस ने 4-2 से हरा दिया था। रोनाल्डो और मैसी इस पुरस्कार के लिए नामित 30 खिलाड़ियों में थे जिनके लिए दुनिया भर के 180 पत्रकारों ने मतदान किया।
महिलाओं में मार्था, लियोन व अदा ने बाजी मारी
महिला वर्ग में ब्राजील की मार्था सर्वश्रेष्ठ फुटबॉलर घोषित की गई। 32 वर्षीय मार्था ने 2010 के बाद ये ट्रॉफी जीतीं है। उन्होंने अदा हेगरबर्ग और जेनिफर मारोजन को पीछे छोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *